ऑनलाइन व ऑफलाइन शिक्षा में अंतर तथा हानि व लाभ|ऑनलाइन और ऑफलाइन क्लासेस में अंतर|online vs offline classess

दोस्तों जैसा कि हम सब जानते हैं कि आज से ठीक1 साल पहले कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में अपना कहर बरपाया था इस pandemic के चलते पूरा काम रुकता गया था online एजुकेशन एक ऐसी चीज थी जिसे इस pandemic के बाद भी नहीं रोका गया | 

फर्क बस इतना आया की एजुकेशन का एक और नया रूप सामने आया कोरोना pandemic के दौरान ऑफलाइन एजुकेशन करना नामुमकिन था इसलिए ऑनलाइन एजुकेशन को introduce कराया गया | 

और आज हम आपको बताएंगे कि क्या ऑनलाइन एजुकेशन ऑफलाइन एजुकेशन की जगह पूरी तरह से ले पाया और ऑनलाइन और ऑफलाइन क्लास में क्या अंतर होता है| साथ में हम आपको इन दो तरह की एजुकेशन के advantage और disadvatage भी बताने वाले हैं| 


ऑनलाइन और ऑफलाइन क्लासेस में अंतर

1. ऑफलाइन क्लासेस में स्टूडेंट को तैयार होकर स्कूल या यूनिवर्सिटी जाना होता है वहां पर student को  एक education environment मिलता है टीचर के सामने बैठकर पढ़ाई होती है| 

वहीं ऑनलाइन एजुकेशन की शुरुआत  1990 के सालो के बाद से शुरुआत हुई थी ऑनलाइन एजुकेशन flexible होता है इसमें स्टूडेंट को कहीं तैयार होकर नहीं जाना होता है अपने घर में डिवाइस और इंटरनेट कनेक्शन की मदद से ऑनलाइन classess atend किया जा सकता है| software जैसे zoom,Google meet आपकी मदद करते हैं|


2. ऑफलाइन क्लासेस मैं स्टूडेंट को Travel कर एजुकेशन सेंटर तक पहुंचना होता है और एक निश्चित समय में ही पहुंचना है और यहां पर स्टूडेंट के पास Freedom to take decision का ऑप्शन नहीं होता है| ऑफलाइन classic में flexibility  बहुत कम होती है यहां पर स्टूडेंट को टाइम के अनुसार चलना पड़ता है|
लेकिन ऑनलाइन एजुकेशन में फ्लैक्सिबिलिटी बहुत ज्यादा होती है स्टूडेंट को टाइम के अनुसार नहीं चलना पड़ता है और ना ही Travel कर एजुकेशन सेंटर तक जाना होता है हां अगर टाइम के अनुसार क्लासेस लेनी हो तो स्टूडेंट बड़ी आसानी से  मैनेज कर सकते हैं|

3. ऑनलाइन क्लासेस में स्टूडेंट और टीचर का interaction बहुत कम हो पाता है स्टूडेंट अपने doubt clear नहीं कर पाते हैं हालांकि ऑनलाइन क्लासेस में वीडियो और टीचर से बात करने का ऑप्शन होता है पर फिर भी स्टूडेंट अपने doubt clear नहीं कर पाते हैं टीचर भी स्टूडेंट से direct बातें नहीं कर पाते हैं किसी स्टूडेंट को उठाकर उढ़ाकर communicate नहीं कर पाते है और यहां तक कि एक स्टूडेंट भी किसी दूसरे स्टूडेंट से बातनहीं कर सकते इसलिए ऑनलाइन क्लासेस interaction के लिए परफेक्ट नहीं है|

जबकि ऑफलाइन पढ़ाई करते समय टीचर आपके सामने खड़े होते हैं आप से सवाल करते हैं और आप उनका जवाब देते हैं और साथ में आपके डाउट क्लियर होते हैं ऑफलाइन क्लासेस में  interaction करना आसान होता है

4. online classess आप कहीं से भी ले सकते हैं और ऑनलाइन क्लास का समय ऑफलाइन क्लासेस से कम होता है क्योंकि बहुत देर तक स्क्रीन के सामने बैठकर स्टूडेंट लो फिर आने लगते हैं और ऑफलाइन क्लासेस में फिक्स लोकेशन और फिक्स टाइम होता है और जहां पर स्टूडेंट को बिना बहाने पहुंचना पड़ता है| 

ऑनलाइन क्लासेस के फायदे


  • ऑनलाइन क्लासेस समय तय करने की जरूरत नहीं होती है यहां पर टाइम कभी भी बदला जा सकता है| 

  • ऑनलाइन क्लासेस से टाइम की बचत होती है क्योंकि ऑफलाइन क्लासेस में आपको यूनिफॉर्म नहीं पहहना होती है और बस से स्कूल तक नहीं पहुंचना होता है लेकिन यह सारा वक्त ऑनलाइन क्लासेस में बचाया जा सकता है| 

  • ऑनलाइन क्लासेस वर्तमान में बहुत मदद कर रही हैं और इससे बच्चे सुरक्षित भी हैं कोरोना pandemic के चलते यह रास्ता ठीक है| 

ऑफलाइन क्लासेस के फायदे


  • ऑफलाइन क्लासेस में टीचर स्टूडेंट पर ध्यान दे सकते हैं और उनसे सवाल पूछ सकते हैं| 

  • ऑफलाइन क्लासेस में स्टूडेंट को पढ़ाई का माहौल मिलता है क्योंकि स्कूल में सभी बच्चे पढ़ाई कर रहे होते हैं| 

  • ऑफलाइन क्लासेस में स्टूडेंट टीचर का interaction अच्छे से होता है| 

ऑनलाइन क्लासेस के नुकसान


  • ऑनलाइन क्लासेस में अकेले एक जगह पढ़ना यह एक बहुत बड़ा नुकसान है| 

  • ऑनलाइन क्लासेस में competition नहीं होता और ऑनलाइन क्लासेस में फिक्स टॉपिक ही लिए जाते हैं| 


ऑफलाइन क्लासेस के नुकसान


  • ऑफलाइन क्लासेस में आपको एक ही जगह पर बैठकर पढ़ाई करनी होती है जिससे बच्चा बहुत परेशान हो जाता है| 

  • ऑफलाइन क्लासेस में आपको हमेशा स्टडी मैटेरियल carry कर ले जाना होता है| 

क्या सभी बच्चों को ऑनलाइन क्लासेस पसंद है


इसका जवाब दे पाना थोड़ा मुश्किल है क्योंकि कुछ बच्चों को ऑनलाइन क्लास अच्छी लगती हैं तो कुछ बच्चों को ऑफलाइन अच्छी लगती हैं| 

इसके कारण कुछ इस तरह से हैं

  • ऑनलाइन क्लासेस में ज्यादा देर तक स्क्रीन के सामने बैठने से आंखों में प्रॉब्लम होती है| 

  • ऑनलाइन क्लासेस में स्टूडेंट अपने डाउट क्लियर नहीं कर पाते हैं

  • कुछ बच्चों को ऑफलाइन क्लास्सेस अच्छी लगती हैं क्योंकि ऑफलाइन क्लासेस में वह अपने डाउट क्लियर कर सकते हैं| 

  • ऑफलाइन classess से बच्चे डिसिप्लिन बनते हैं| 

तो हम इस बात का जवाब नहीं दे सकते हैं कि सभी बच्चों को ऑनलाइन क्लासेज अच्छी लगती हैं या नहीं लगती हैं इसका जवाब आप हमें कमेंट करके जरूर बताएं| 

Future में ऑनलाइन क्लासेस चलेंगी 


दोस्तों कोरोना वायरस का खतरा कम होते ही ऑफलाइन क्लासेस दोबारा शुरू कर दी जाएंगी लेकिन किसी जॉब की अच्छी preparation के लिए ऑनलाइन classess जारी रहेंगी| 

आज आपने क्या सीखा


दोस्तों उम्मीद करता हूं कि आपको ऑनलाइन क्लासेस और ऑफलाइन क्लासेस में क्या अंतर होता है और हमें  क्या नुकसान और फायदे होते हैं यह पता चल गया होगा लेकिन एक सवाल मैं आपसे पूछता हूं कि आपको पढ़ाई  कौन सा तरीका अच्छा लगता है हमें कमेंट सेक्शन में जरूर बताएं और इसी तरह की जानकारी के लिए हमारे साथ जुड़े रहे है

मिलते हैं नए आर्टिकल में नई जानकारी के साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!