NCR full form In hindi | एनसीआर क्या है | एनसीआर क्यों और कब बना

NCR full form In hindi | एनसीआर क्या है

 

hello दोस्तों आपने delhi NCR का नाम तो जरुर सुना होगा चाहे newspaper में या टीवी में या फिर आपका कोई रिलेटिव delhi एनसीआर में रहता हो जैसे हमारे कई रिलेटिव delhi एनसीआर में ही रहते है लेकिन क्या आप जानते है की delhi के साथ एनसीआर शब्द क्यों बोला जाता है ? 

 

NCR full form in hindi ? एनसीआर में कितने क्षेत्र शामिल है ? आखिर क्यों बनाया गया एनसीआर ? दोस्तों इन सभी प्रश्नों के answers आज हम आपको इस आर्टिकल में देने वाले है तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़िए और जानिये एनसीआर से जुडी हर जानकरी |

 

NCR full form In hindi | एनसीआर क्या है | एनसीआर क्यों और कब बना

 

NCR full form in hindi

 

NCR क्या है ये जानने से पहले आइये जानते है NCR की full form

N – National  (राष्ट्रीय)

C – Capital  (राजधानी)

R – Region  (क्षेत्र)

 

एनसीआर (NCR) क्या है

 

जैसा की नाम से ही पता चलता है कि NCR एक राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र है | एनसीआर को भारत ही नहीं बल्कि इसे दुनिया भर के बड़े capital क्षेत्रों में गिना जाता है | यहाँ 4 करोड़ 70 लाख से ज्यादा की आबादी रहती है | दिल्ली और दिल्ली से लगते कई शहरी क्षेत्रो को एनसीआर कहा जाता है |

एक रिपोर्ट के मुताबिक 2011 और 12 में एनसीआर और उससे लगते राज्यों की जीडीपी $ 128. 9 बिलियन से ज्यादा रही | विकिपीडिया के अनुसार एनसीआर भारत में दिल्ली के राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (NCT) पर केन्द्रित योंजना है |

 

एनसीआर का इतिहास

 

महाभारत के टाइम से ही दिल्ली को पांडवों की राजधानी कहा जाता था | सन 1911 में अंग्रेजो ने कोल्कता को छोड़कर दिल्ली को अपनी राजधानी बनाया और जब भारत आजाद हुआ तब भी राजधानी दिल्ली को ही accept किया गया | राजधानी होने के नाते धीरे धीरे दिल्ली में हर सुविधा प्रदान की जाने लगी जिसकी वजह से लोंगो को रोजगार मिलने लगे और देखते ही देखते स्तिथि अच्छी होने लगी | कुछ समय बाद दिल्ली में जनसँख्या बढ़ने लगी और वो भी बहुत तेजी से | दुसरे गावों और शहरों से लोग कमाने के लिए, बच्चों को अच्छी education दिलाने के लिए, एक अच्छी स्वाथ्य सुविधा प्राप्त करने के लिए लोग दिल्ली का सहारा लेने लगे और यंहा आये और यहीं के होकर रह गये | आकड़ों के मुताबिक 1951 से 1961 के बीच दिल्ली की जनसँख्या में 54.44% बढ़ोतरी हुई और ये उछाल हमें आगे भी एसी तरह देखने को मिला और फिर दिल्ली में परेशानी बढ़ने लगी जैसे पानी की कमी होना, रहने के लिए जगह का कम पड़ना, खाने के वस्तुओं में कमी आदि |

 


इस भयावह स्तिथि को देखते हुए दिल्ली सरकार ने सोचा क्यों न दिल्ली से लगते इलाकों को दिल्ली की तरह ही बना दिया जाए, दिल्ली की तरह ही उसमें हर facility दी जाए तो इससे क्या होगा की लोगों को किसी नही तरह की दिक्कत नहीं होगी और न ही जनसँख्या का सीधा असर दिल्ली राजधानी के ऊपर पड़ेगा |

 


बस तो फिर क्या सरकार ने अपनी इस सोच को हकीकत में बदलने के लिए 1985 में नेशनल रीजन प्लानिंग बोर्ड (NRPB) की स्थापना की गयी और भारतीय सविंधान के 69वें अमेंडमेंट एक्ट 1991 के तहत दिल्ली और दिल्ली से जुड़े इलाकों को एनसीआर जोन बनाया गया | दिल्ली कैपिटल से जुड़े होने की वजह से इसे दिल्ली एनसीआर कहा जाता है | इसमें दिल्ली से लगते 3 राज्यों के कई क्षेत्रों को शामिल किया गया था | उस समय एनसीआर ने 34,144 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र को कवर किया हुआ था और आकड़ों के मुताबिक आज के समय में 55,083 km2 है |

 


सन 1956 में दिल्ली को केद्र शासित प्रदेश बनाया गया |

 

Delhi एनसीआर में शामिल क्षेत्र

 

एनसीआर में तीन पडोसी राज्य हरियाणा, उत्तर प्रदेश और राज्यस्थान शामिल है जिसमें हरियाणा का 45.98 % उत्तर प्रदेश का 26.92 % और वही राजस्थान का 24.41 % हिस्सा आता है | वर्तमान समय में इसमे तीन राज्यों के 24 जिले शामिल है | उत्तर प्रदेश के आठ, हरियाणा के चौदह जिले और वहीँ  राज्यस्थान के दो जिलों को शामिल किया गया है | आइए अब जानते है कि इन राज्यों के कौन कौन से जिलों को शामिल किया गया है –

 

 

उतर प्रदेश के जिले

 

  • गाजियाबाद
  • मेरठ
  • बागपत
  • हापुड़
  • गौतम बुध नगर
  • मुजफ्फर नगर
  • बुलंद सहर
  • शामिली

हाल ही में अलीगढ़, हाथरस और मथुरा जिले को भी एनसीआर में शामिल करने के लिए प्रस्तावित किया गया है |

 

 

हरियाणा के 14 जिले इस प्रकार है –

  • जींद
  • महेंद्रगढ़
  • करनाल
  • भिवानी
  • चरखी दादरी
  • पलवल
  • झज्जर
  • रेवाड़ी
  • सोनीपत
  • पानीपत
  • रोहतक
  • नुहं
  • गुद्गावं
  • फरीदाबाद

 

 

राजस्थान के 2 जिले शामिल है –

  • अलवर
  • भरतपुर

 

NCR के उद्देश्य

 

जैसा की हम सभी जानते है की जनसँख्या के तेज बहाव से दिल्ली का विकास रुक गया था एसी की चलते  एनसीआर का निर्माण किया गया था ताकि दिल्ली से लगते क्षेत्रों को विकास की दिशा में आगे बढाया जाये | एनसीआर बोर्ड का मुख्य उद्देश्य जनता को होने वाली परेशानीयों को दूर करना है | जैसे शिक्षा का प्रसार, ट्रासपोर्ट सुविधा में विकास की गति, हेल्थ सेक्टर में सुधार के साथ विकास, पानी सप्लाई की सुविधा और daily use होने वाले सामानों की उपलब्धता कराना है |

 

इस उद्देश्य को पूरा करने में एनसीआर बोर्ड ने सफलता भी हासिल की है जैसे लोगों को मेट्रो की सौगात, सस्ती एलेक्ट्रसिटी, पब्लिक ट्रांसपोर्ट आदि | दिल्ली एनसीआर के विकास के लिए सरकार द्वारा इन्हें डेवलपमेंट पैकेज दिया जाता है | सरकार के द्वारा बनाई गई योजनाओ का लाभ दिल्ली एनसीआर के क्षेत्रो को पहले मिलता है |

 

एनसीआर क्षेत्रों को मिलने वाले फायदे :-

 

दिल्ली एनसीआर से जुड़ने वाले क्षेत्रों को निम्नलिखित फायदे है-

  • मेट्रो सुविधा मिलना
  • पब्लिक ट्रासपोर्ट का फायदा
  • स्वास्थ्य सुविधा का लाभ
  • रोजगार का फायदा
  • पानी और जमीन जैसे संसाधनों का फायदा
  • बेहतर और बड़े स्कूलों में शिक्षा का फायदा

 

निष्कर्ष :-

 

एनसीआर से जुड़े प्रशन हमें प्रतियोगी परीक्षायों में भी देखने को मिलते है और इस आर्टिकल के माध्यम से हमने NCR से जुडी हर जानकारी आप तक पहुँचाने की कोशिश है | NCR full form in hindi -एनसीआर क्या है | इस तरह से लगभग सभी जानकारी उपलब्ध करने की कोशिश की है उम्मीद है कि आपको ये पोस्ट पसंद आई होगी और आपके प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए usefull साबित होगी |

 

आखिर में बस यही कहूंगा अपने दोस्तों के पास इस आर्टिकल को शेयर जरूर करे ताकि उन्हें भी NCR full form in hindi -एनसीआर क्या है के विषय में जानकारी मिल सके |

 

RELATED FAQ’S 

 

कौन से जिले एनसीआर में आते हैं?

NCR में तीन पडोसी राज्य हरियाणा, उत्तर प्रदेश और राज्यस्थान शामिल है जिसमें हरियाणा का 45.98 % उत्तर प्रदेश का 26.92 % और वही राजस्थान का 24.41 % हिस्सा आता है और इन राज्यों के कौन-कौन से जिले एनसीआर में आते हैं इसकी जानकारी ऊपर दी गई है|

 

एनसीआर क्यों बनाया गया था?

दिल्ली में जनसंख्या बढ़ने के कारण दिल्ली का विकास रुक गया था जिस कारण से दिल्ली के आसपास के क्षेत्रों का विकास नहीं हो पा रहा था इसी को ध्यान में रखते हुए एनसीआर बनाया गया ताकि दिल्ली से लगते क्षेत्रों का विकास हो सके एनसीआर बोर्ड का मुख्य उद्देश्य जनता को होने वाली परेशानियों को दूर करना है इसलिए एनसीआर बनाया गया था|

    

NRC का Full form क्या होता है?

एनसीआर का फुल फॉर्म National capital region होता है

 

Delhi एनसीआर दिल्ली क्या है?

एनसीआर को भारत ही नहीं बल्कि इसे दुनिया भर के बड़े capital क्षेत्रों में गिना जाता है | यहाँ 4 करोड़ 70 लाख से ज्यादा की आबादी रहती है | दिल्ली और दिल्ली से लगते कई शहरी क्षेत्रो को एनसीआर कहा जाता है|

 

 

 

Read more articles :-

 

Moblie se paise kaise kamaye-2022

Gk Question in hindi 2022- Gk questions and answers in Hindi

Rational numbers in hindi-परिमेय संख्या क्या होती है ?

Whole number in Hindi-Whole number क्या होते है

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.