पचमढ़ी की सबसे सुंदर जगह-Pachmarhi tourist places in hindi

पचमढ़ी   {सतपुड़ा की रानी}                               

 

पचमढ़ी भारत के मध्य प्रदेश के होशंगाबाद जिले में स्थित है यह एक पर्वतीय पर्यटन स्थल है पचमढ़ी को सतपुड़ा की रानी भी कहा जाता है पचमढ़ी मध्य प्रदेश का higest point है |

 

pachmarhi|सतपुड़ाकी रानी|Best tourist-picnic place|in hindi-updated
 

 

पचमढ़ी 1067 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है यह शहर यूनेस्को बाय शेयर रिजर्व का एक हिस्सा है पचमढ़ी में पहाड़ी की चोटी पर पांच बलुआ पत्थर की कटी हुई गुफाएं हैं माना जाता है कि अपने निर्वासन के दौरान पांडव पचमढ़ी की गुफाओं में रुके थे इसलिए यह धार्मिक टूरिस्ट के बीच एक लोकप्रिय स्थान बन गया है | पचमढ़ी ऊंचाई पर स्थित होने से यह सतपुड़ा के मोहक जंगलों से घिरा हुआ है ब्रिटिश सेना के captan james forsyth द्वारा आधुनिक समय मैं इस शहर की खोज और विकास किया गया था |

 

पचमढ़ी का इतिहास 

 

पचमढ़ी का इतिहास लोकल स्टोरी में बताया जाता है कि पुराने समय में पांडव अपने वनवास के 13 साल में इस क्षेत्र के जंगलों में निवास कर रहे थे और  उन्होंने इसे सुरक्षित जगह बनाने के लिए गुफाओं का निर्माण किया था और इस प्रकार पांच और  मारची गुफाओं से प्राप्त हुआ है इसका नाम ‘’पचमढ़ी ‘’

पचमढ़ी में देखने के लिए सबसे सुन्दर places 

 

1. धूपगढ़

pachmarhi|सतपुड़ाकी रानी|Best tourist-picnic place|in hindi-updated
www.holidify.com

 

धूपगढ़ पचमढ़ी का हाईएस्ट पॉइंट है धूपगढ़ 1352 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है यह जगह सूर्योदय और सूर्यास्त के लिए जाना जाता है क्योंकि यहां से सूर्यास्त और सूर्योदय का आश्चर्यजनक भव्य दृश्य दिखाई देता है इसके अलावा आप यहां से रात में किसी भी शहर को  जगमगाते हुए यहां से देख सकते हैं टूरिस्ट यहां सड़क के माध्यम से पहुंच सकते हैं |

 

2. पांडव गुफाएँ 

 

pachmarhi

 

पांडव गुफाएं पचमढ़ी में घूमने आने वाले टूरिस्ट के लिए सबसे दिलचस्प स्थानों में से एक है पांडव गुफाओं में बड़ी खूबसूरती से rock cut किया गया है  यह बौद्ध मंदिरों का एक ग्रुप है 

 

 
पांडव गुफाएं पौराणिक कथाओं के अनुसार इन मंदिरों को पांडवों को उनके वनवास काल me आश्रय के लिए बनाए गए थे और बस इसी कारण से इसका नाम पांडव गुफाओं रखा गया था यह मंदिर नवी शताब्दी में बनाए गए थे और बे भाभी मूर्तियों और नक्काशी से भरपूर है

 

 

 3. Bee falls 

pachmarhi|सतपुड़ाकी रानी|Best tourist-picnic place|in hindi-updated
 
Bee falls पचमढ़ी में सबसे खूबसूरत झरने में से एक है बी फॉल्स जमुना प्रसाद के नाम से भी जाना जाता है यह हमें प्रकृति के साथ जोड़ता है बी फॉल्स सुंदर होने के साथ-साथ यहां के आसपास के गांव में पानी की पूर्ति भी करता है |
 
बी फॉल्स यहां रहने वाले लोगों के साथ-साथ टूरिस्ट के बीच भी सबसे लोकप्रिय पिकनिक प्लेस है यहां आप स्विमिंग कर सकते हैं और बहुत सारे टूरिस्ट यहां स्विमिंग के लिए अक्सर आते हैं चट्टानी घाटी के नीचे एक झरने का दृश्य देखने और अनुभव करने के लिए अच्छा दृश्य है

 4. महादेव हिल्स

 

pachmarhi|सतपुड़ाकी रानी|Best tourist-picnic place|in hindi-updated
www.holidify.com

 

महादेव हिल्स पचमढ़ी में विश्राम के लिए अच्छा स्थान है अगर आप विश्राम के लिए एक शांत जगह तलाश कर रहे हैं तो आपके लिए महादेव हिल्स एक अच्छी जगह है आप यहां पर विश्राम कर सकते हैं 1363 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है |
 
महादेव हिल्स एक बड़ा बलुआ पत्थर पहाड़ी है आप यहां से आसपास के जंगलों और घाटियों का एक आश्चर्यजनक दृश्य देख सकते हैं|

 

5. जट्टा  sankar cave

 

pachmarhi tourist places in hindi
 
जटाशंकर गुफा कथाओं के अनुसार ऐसा माना जाता है कि भगवान शिव ने भस्मासुर के घोल प्रकोप से बचने के लिए स्वयं को यहां छुपाया था जो लोग पौराणिक कथाओं में विश्वास रखते हैं आमतौर पर वह इस जगह पर आते हैं यह खूबसूरत गुफा चूना पत्थर से बनी हुई है |
 
 यह गुफा भगवान शिव के मठ में ले बानो की तरह दिखती है जिसके कारण इसे जटाशंकर गुफा के नाम से जाना जाता है गुफा में एक प्राकृतिक शिवलिंग  है और एक विशाल चट्टान भी है जो 100 सिर वाले शेषनाग जैसी दिखती है यह स्थान भक्तों के बीच बहुत लोकप्रिय है |

6 . चौरागढ़ मंदिर

 

pachmarhi|सतपुड़ाकी रानी|Best tourist-picnic place|in hindi-updated
image source :-www.holidify.com
चौरागढ़ मंदिर 1326 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है पचमढ़ी में चौरागढ़ मंदिर उन धार्मिक स्थलों में से एक है जिन्हें आप पचमढ़ी की यात्रा के दौरान देख सकते हैं यह मंदिर पहाड़ियों से गिरा हुआ है और यहां पर रहने वाले लोगों के अनुसार यह सदियों पुराना भगवान शिव का मंदिर है
 
भक्तों को इस मंदिर तक पहुंचने के लिए कुल 1300 कदम चलना होता है रास्ते में आपको एक धर्मशाला,मुख्य मंदिर और प्राकृतिक तालाब भी देखने को मिलेगा महाशिवरात्रि और नाग पंचमी जैसे त्योहारों पर श्रद्धालु भारी वजन वाले त्रिशूल जैसी चीजों को ले जाते हुए इस पहाड़ी के रास्ते पैदल चढ़ते हुए देखा जाता है |

7 . गुप्त महादेव 

 

pachmarhi|सतपुड़ाकी रानी|Best tourist-picnic place|in hindi-updated
एक और मंदिर जो पचमढ़ी में देखने योग्य है गुप्त महादेव मंदिर यह मंदिर एक विशाल प्राकृतिक गुफा के अंदर स्थित है गुफा में मुख्य रूप से आपको भगवान गणेश भगवान शिव और भगवान हनुमान की मंदिर देखने को मिलेंगे इस गुफा में प्रवेश करने का द्वार बहुत ही छोटा है |

8. satpuda national park 

 

 
सतपुड़ा नेशनल पार्क सतपुड़ा के पहाड़ों से घिरा हुआ है जिन लोगों को वन्यजीवों की खोज करना पसंद है  तो उन लोगों के लिए यह एक अच्छा स्थान है आप प्रकृति के साथ connect hone के लिए सफारी का आनंद भी ले सकते हैं और यदि आप भाग्यशाली हैं तो आप  बाघों को भी देख सकते हैं |  अगर आप नेशनल पार्क सफारी से जाते हैं तो आपको  देनवा नदी पार करनी पड़ेगी आप नदी हाथी पर बैठकर या फिर जिप्सी से पार कर सकते हैं
 
यह नेशनल पार्क  प्रकृति प्रेमियों के बीच एक पसंदीदा स्थलों में से एक है सतपुड़ा नेशनल पार्क पचमढ़ी में घूमने के लिए एक दिलचस्प जगह है आपको यहां हिरण बाई सन हाथी तेंदुए चार सिंह वाले मरा बाघ और बहुत सारे देसी और प्रवासी पक्षियों का निवास देखने को मिलेगा |इस नेशनल पार्क ने वन्यजीवों की रक्षा के लिए कई प्रतिष्ठित पुरस्कार जीते हैं  |

Pachmarhi कैसे पहुंचे ?

By air  
पचमढ़ी का निकटतम एयरपोर्ट भोपाल में है जो कि पचमढ़ी से 195 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है जो दिल्ली ग्वालियर इंदौर और मुंबई के लिए नियमित उड़ानों से जुड़ा हुआ है भोपाल एयरपोर्ट आने के बाद आप भोपाल से होशंगाबाद होते हुए पचमढ़ी पहुंच सकते हैं
 
By train 🚉
पचमढ़ी का सबसे निकटतम रेलवे स्टेशन पिपरिया में है pipariya पचमढ़ी से 45 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है पचमढ़ी जाने के लिए यह रेलवे स्टेशन सबसे सुविधाजनक है आप स्टेशन पहुंच कर बस या टैक्सी किराए पर ले सकते हैं |
By bus 🚌🚗
भोपाल से पिपरिया के लिए लगातार बस आती जाती हैं पचमढ़ी भोपाल, होशंगाबाद, नागपुर, पिपरिया,छिंदवाड़ा के लिए नियमित बस सेवाओं से जुड़ा हुआ है पचमढ़ी की यात्रा करने के लिए आप टैक्सियों को भी किराए पर ले जा सकते हैं  |

पचमढ़ी visit करने के लिए सबसे अच्छा समय 

 

अगर आप गर्मियों में पचमढ़ी घूमने जा रहे हैं तो आपको गर्मियों में बहुत भीड़ मिलेगी अगर आप भीड़ से बचना चाहते हैं तो आप दीपावली के बाद दिसंबर महीने में जा सकते हैं दिसंबर के महीने में यहां पर कम लोग घूमने आते हैं और आप अच्छे से पचमढ़ी घूम सकते हैं |
 

आज आपने क्या सीखा 

उम्मीद करता हूं कि आपको मेरे द्वारा पचमढ़ी की सबसे सुंदर जगह के बारे में दी गई जानकारी पसंद आई होगी हमने आपको पचमढ़ी की सबसे सुंदर जगह के बारे में बताया है साथ में हमने पचमढ़ी जाने का सबसे अच्छा समय भी आपको बताया है|

 

लेकिन दोस्तों आपको कोरोना वायरस की सभी Guideliness को ध्यान में रखते हुए पचमढ़ी की यात्रा करनी होगी इसलिए कोरोनावायरस की guidliness का ध्यान रखें और पचमढ़ी घूमने का मजा लें|

 

आप चाहे तो अपने दोस्तों के पास इस आर्टिकल को शेयर कर सकते हैं ताकि आपके दोस्तों को भी पचमढ़ी की सबसे सुंदर जगह के बारे में पता चल सके आपको नीचे शेयर बटन मिल जाएंगे|

 

Read more articles :-


Leave a Reply

Your email address will not be published.